थोड़ी दूर तो साथ चलो

थोड़ी दूर तो साथ चलो

थोड़ी दूर तो साथ चलो
माना मंजिल तक न सही
राह पर आकर तो देखो
याद करो अपना वादा
जो किया था तुमने उस शाम
जब हम मिले थे एक अनजानी राह पर

जो कहा था
आज के बाद
मै तुम्हारे साथ हूँ हर राह पर
लेकिन लगता है भूल गई हो तुम
सब्र करो यार
मै हो जाऊंगा कामयाब
तब तक तो मेरे साथ चलो

मै हर वादा अपना निभाउंगा जरूर
बस तुम थोडी दूर तो साथ चलो
बस नजरें चुरा कर चली गई तुम
यही मुक्कदर है

बिछड़ने का किस्सा सारा
उस खुदा पर डाल दिया
अब तुम्हे याद करके भी कैसे पुकारेंगे
थोड़ी दूर तो साथ चलती

थोड़ी दूर तो साथ चलो Walk together with me some distance

Written by BSTAR

Search Anything in Rajasthan
SMPR News Top News Analysis Portal
Subscribe SMPR News Youtube Channel
Connect with SMPR News on Facebook
Connect with SMPR News on Twitter
Connect with SMPR News on Instagram

Post a comment

0 Comments