अजीतगढ़ में आयोजित कवि सम्मेलन में जमकर लगे ठहाके

अजीतगढ़ में आयोजित कवि सम्मेलन में जमकर लगे ठहाके - अजीतगढ में स्थित श्री कृष्ण गौशाला समिति के हीरक जंयती समारोह के अवसर पर आयोजित कवि सम्मेलन में आए हुए कवियों ने अपनी प्रस्तुतियों से श्रोताओं का भरपूर मनोरंजन करने के साथ देश व समाज की विसंगतियों के खिलाफ व्यंग करते हुए चिंतन के लिए मजबूर किया.


वरिष्ठ  रंगकर्मी व कवि विनोद बिहारी तिवाड़ी की अध्यक्षता में देर रात तक चले काव्य संगम में हजारों श्रोताओं ने काव्यधारा का रसास्वादन किया. कवि सम्मेलन के प्रारंभ में पचेरी से पधारे हास्य के बेजोड़ कवि हरेश पंवार 'धांसू भाई' ने हँसी की फुलझड़ियां बिखेरी.

अजीतगढ़ में आयोजित कवि सम्मेलन में जमकर लगे ठहाके

जयपुर से पधारे कवि डॉक्टर बजरंग लाल सोनी ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का संदेश देते हुए अपनी कविता “बेटियों को बेटों से आगे बढ़ाएंगे, सोनोग्राफी गर्व कि नहीं समाज की करवाएंगे“.

Promote Your Business on Shrimadhopur App @1199 Rs

नीमकाथाना से पधारे श्रृंगार रस के कवि डॉक्टर देवी प्रसाद वर्मा ने “माँ भारती की वेदना गीत गा रहा हूँ, भारत माता तड़प रही है, अपने बेटों से पूछ रही है" कविता के माध्यम से देश की विभिन्न समस्याओं पर टिप्पणी करते हुए लोगों को सोचने के लिए मजबूर किया.

अपनी खबर को SMPR News पर पब्लिश करवाने के लिए 9529433460 पर संपर्क करें

झुंझुनूं के लोक गीतकार बी. एल. सावन ने सुरीले स्वर में "मैं सावन हूँ जो अपना रंग दिखाता हूँ, मौसम सर्दी गर्मी जो भी हो मैं अपना रंग दिखाता हूँ” गीत के माध्यम से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध किया.

अजीतगढ़ में आयोजित कवि सम्मेलन में जमकर लगे ठहाके

दिवराला की नवोदित कवयित्री भाग्यश्री ने गौ हत्या पर समाज और सरकार की उदासीनता पर जमकर कटाक्ष किया. जयपुर से पधारी कवयित्री निरुपमा चतुर्वेदी ने नारी स्वतंत्रता का पक्ष रखते हुए कहा "मैं कैफियत दिलों की मुस्कुरा कर देख लेती हूँ, सभी के साथ रिश्ते निभा कर देख लेती हूँ”.

Also read: अजीतगढ़ में बघेरे के कारण दहशत का माहौल

कार्यक्रम का संचालन कर रहे मैणास के कवि पवन पारस ने कहा कि “खूबसूरती सौ गुना बढ जाती है मात्र मुस्कुराने से, फिर भी लोग बाज नहीं आते मुँह फुलाने से” कविता प्रस्तुत कर तनाव मुक्त रहने का संदेश दिया.

बालकवि सामर्थ्य शर्मा ने वीर रस की कविताओं से ओज भर दिया. कवयित्री मैना कंवर ने नारी वेदनाओं को अंकित किया.

अजीतगढ़ में आयोजित कवि सम्मेलन में जमकर लगे ठहाके

इससे पूर्व कवि सम्मेलन का उद्घाटन सुजलाम संस्था के डॉक्टर योगेश यादव, अलायंस क्लब से सीताराम सैनी, रोटरी क्लब के पुरोषतम शर्मा, रेडक्रॉस सोसाइटी के डॉक्टर मंगल यादव व संवाद सेतु के दिलीप शर्मा ने गोमाता की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया.

Also read: क्या श्रीमाधोपुर के कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने पटेल को बीजेपी का मान लिया है?

जयपुर से पधारी कवयित्री निरुपमा चतुर्वेदी ने वीणा दायनी माँ शारदा की आराधना की. कार्यक्रम के संयोजक दिनेश शर्मा ने बताया की कवि सम्मेलन में वंचित तबके के प्रतिनिधि कवि हरेश पंवार “धांसू भाई”, मायड भाषा के हस्ताक्षर ताराचंद चीता, घनश्याम शर्मा, बाल कवि समर्थ, शांतिलाल सोनी, मान कवर "मैना", अल्का शर्मा ढाबावाली ने कविता प्रस्तुत की.

अजीतगढ़ में आयोजित कवि सम्मेलन में जमकर लगे ठहाके

कार्यक्रम में रोटरी क्लब के पुरोषतम शर्मा, युवा चिंतक व पत्रकार विवेकानंद शर्मा, विमल जोशी, गौशाला समिति के अध्यक्ष मक्खन स्वामी, विमल इंदोरिया, अजीत चौधरी कैलाश भादुका आदि उपस्थित थे.

अजीतगढ़ में आयोजित कवि सम्मेलन में जमकर लगे ठहाके Kavi Sammelan in Ajitgarh enjoyed joyfully

अपनी खबर को SMPR News पर पब्लिश करवाने के लिए 9529433460 पर संपर्क करें

Written by:
Vimal Indoria

vimal indoria news writer smpr news

keywords - shri krishna goshala ajeetgarh, kavi sammelan in ajeetgarh, kavi sammelan in ajitgarh, shri krishna goshala samiti ajeetgarh, shri krishna goshala samiti ajitgarh, hasya kavi sammelan in ajeetgarh, kavi sammelan in ajeetgarh sikar

Post a Comment

0 Comments